कोरोना संक्रमितों ने कोविड अस्पताल पर फिर लगाए घटिया खाद्य सामग्री देने के आरोप, सच में निकल रहे कीड़े?

Corona infected in Mulana MM Hospital again accuse Kovid Hospital of giving inferior food items

मुलाना (सुभाष शर्मा)। मुलाना एमएम अस्पताल की कोविड 19 यूनिट में रविवार को एक बार सोशल मीडिया पर वायरल हो रही वीडियो से वहां पर मिलने वाली खानी की क्वालिटी पर सवाल उठाए। अब कोविड अस्पताल पर खाने में मधुमक्खी निकलने के आरोप लगे हैं। कोविड मरीजों ने मुलाना के कोविड अस्पताल में दाल में मक्खी निकलने का एक वीडियो बना सोशल मीडिया में वायरल कर दिया। इससे पहले भी खाने की गुणवत्ता को लेकर कोविड अस्पताल पर खाने में कीड़े निकलने के आरोप लग चुके हैं। अब फिर मरीजों ने आरोप लगाते हुए कहा कि उन्हें सही खाना नही मिल रहा। प्राप्त जानकारी अनुसार रविवार को कोरोना संक्रमित कुछ मरीजों ने अस्पताल से मिल खाने में मधुमक्खी निकलने का आरोप लगाया। इतना ही नही मरीजों ने खाने में निकली मधुमक्खी की विडियो तक बनाकर वायरल की। जोकि सोशल मिडिया पर तेजी से वायरल होने लगी। वीडियो में मरीजों ने कहा कि उन के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। कोविड मरीजों ने इस वीडियो को वायरल करते हुए कहा कि इस वीडियो को ज्यादा से ज्यादा शेयर किया जाए।
कोविड अस्पताल पर इस से पहले भी लगे है खाने की गुणवत्ता को लेकर आरोप
बीते सप्ताह के सोमवार को करनाल के रहने वाले कोरोना संक्रमित कुछ मरीजों ने अस्पताल से मिल खाने में कीडे निकलने का आरोप लगाया था। इतना ही नही मरीजों ने खाने में निकले कीड़ों की विडियो तक बनाकर वायरल की थी । जोकि सोशल मिडिया पर तेजी से वायरल भी हुई थी, लेकिन उस समय वहीं अस्पताल प्रबंधन ने कहा था कि खाने देने वाले ठेकेदार को खाने में सुधार की सख्त हिदायतें दे दी गई है, साथ ही उनपर दो सुपरवाइजर नियुक्त किए गए है जोकि खाने की गुणवत्ता को जांचेगे। लेकिन कब एक सप्ताह बाद फिर कोविड अस्पताल में खाने पर आरोप लगे है।
एसडीएम बराड़ा कमेटी कर चुकी है कोविड अस्पताल का निरीक्षण
मुलाना एमएम अस्पताल की कोविड़ 19 यूनिट में खाने की गुणवत्ता को लेकर पहले हुए को हुए हंगामे के बाद तुंरत प्रशासन हरकत में आया था। जिला उपायुक्त के निर्देश के बाद एसडीएम बराड़ा की अगुवाई में एक पांच सदस्यीय टीम एमएम अस्पताल की कोविड 19 युनिट पंहुची व मरीजों के लिए बन रहे भोजन का निरीक्षण किया गया था। एसडीएम बराड़ा गिरीश कुमार की अगुवाई में पहुंची टीम में डॉ. बेला शर्मा सिविल सर्जन अंबाला,एसएमओ बराड़ा डॉ. बीरबल कुमार व एफएसओ डॉ. गौरव शर्मा शामिल रहे थे। जहां एफएसओ विभाग द्वारा खाने की गुणवत्ता को जांचने के लिए पक रहे भोजन के सैंपल भी लिए गए थे। वहीं उस समय टीम द्वारा अस्पताल प्रबंधन व भोजन बनाने वाले ठेकेदार को भी मरीजों को सही व बढ़िया गुणवत्ता का खाना परोसने की सख्त हिदायत दी गई थी ।वहीं मरीजों की वायरल विडियो में मरीजों को मिले भोजन में कीडे परोसे जाने के मामले में उक्त टीम ने अस्पताल प्रबंधन को अंतिम चेतावनी भी दी थी । हालांकि उस समय मौके पर सब सही पाया गया था।
कोट्स
शिकायत मिलते ही हमने तुरंत खाना बनाने वाले ठेकेदार को निष्कासित कर दिया है, लेकिन कोविड 19 यूनिट में यह समस्या बार बार केवल कुछ मरीजों को ही आ रही है। हमारे पास फिलहाल करीब 160 मरीज है। अन्य किसी को कोई समस्या नहीं है।
डॉ. एलएन गर्ग, नोडल अधिकारी, एमएम क ोविड यूनिट।

About Post Author

Leave a Comment

और पढ़ें