अंबाला में मिले 7 कोरोना पॉजिटिव मरीज, अंबाला शहर फिर कोरोना की दस्तक

55 corona positive patients found in Ambala

सिविल सर्जन डा0 कुलदीप सिंह ने बताया कि आज जिले में सात पॉजिटिव केस आये जिनमें से 6 पॉजिटिव केस घनिष्ठ संबधी है ये सब मरीज जो एक दिन पहले कैंसर पेशेंट पॉजिटिव आयी थी उनके नजदीकी संबधी हैं। चार मरीज उसी घर में रहते हैं और दो मरीज उसके साथ वाले घर में रहते हैं। आने वाले दो दिनों के भीतर इस परिवार के बाकी सभी सदस्यों के दोबारा सैंपल लिए जायेंगे। सातवां मरीज 42 वर्षीय महिला है, जो दिल्ली से आई थी जो कि हाई रिस्क जोन में आता है। इसलिए स्वास्थ्य विभाग के द्वारा लिए गये निर्णय के अनुसार उसका सैंपल लिया गया था। जिन राज्यों में ज्यादा संक्रमण है जैसे महाराष्ट्र, दिल्ली, गुजरात आदि से जो भी व्यक्ति आते हैं उन सभी का सैंपल लेने का निर्णय लिया गया है।
कोरोना वायरस से सम्बन्धित जिला में कुल 6203 सैम्पल लिये जा चुके हैं, जिनमें से 5675 की रिपोर्ट नेगेटिव आई है तथा 465 सैम्पलों की रिपोर्ट अभी आनी बाकी है। जिला के 13 कंटनेमैंट जोन में विभिन्न टीमों ने सर्वे किया तथा 12985 लोगों को स्क्रीन किया एवं 44 लोगों के सैम्पल लिए। आज जिला में 11 विभिन्न मोबाईल टीमों ने (जिसमें हर टीम में एक डॉक्टर होता हैं) जिले के अलग-अलग स्थानों में जाकर 888 व्यक्तियों का चैकअप किया। उन्होंने बताया कि 15 अप्रैल से जिले में मोबाईल टीमों ने कुल 4 लाख 69 हजार 103 लोगों का निरीक्षण किया है। आज तक कुल 1067 लोगों को आईएलआई एवं सारी जैसे लक्षणों के साथ रैफर किया गया हैं।
उन्होंने यह भी बताया कि धार्मिक प्रतिनिधियों के साथ बातचीत के सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए डा0 बलविन्द्र कौर ने माता वैष्णों देवी ट्रस्ट अम्बाला के सभी मैम्बर के साथ मुलाकात की। इस वार्तालाप के दौरान उन्होंने सभी मैम्बरों से आग्रह किया कि जन साधारण को कोविड 19 के प्रति जागरूक करने में स्वास्थ्य विभाग की मदद करें एवं भविष्य में भी कोविड 19 की हिदायतों की पालना का निवेदन किया।
उन्होंने यह भी बताया कि जिले में स्पेशल ट्रेन एवं दूसरे राज्य से आने वाले व्यक्तियों को कवांरटाईन किया जायेगा और ऐसे व्यक्तियों में खांसी, बुखार, जुखाम के लक्षण है उनका सैम्पल लिया जायेगा जिसके लिए हैल्पलाईन नम्बर 108, 0171-2550580, 7027846102, 9813059474 है और जो भी सरकार के आदेशों की अवहेलना करेगा उसके खिलाफ एपीडैमिक डिजीज एक्ट 897 के तहत कानूनी कार्रवाई की जायेगी।

About Post Author

Leave a Comment

और पढ़ें