ambala news todayबीपीएल परिवारों के लिए ईडब्ल्यूएस आवास इकाइयों के हस्तांतरण हेतु नीति’ के नाम से एक विस्तृत नीति तैयार की गई

चंडीगढ़((अंबाला कवरेज) आवास बोर्ड हरियाणा प्रदेश के गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडब्ल्यूएस) के लोगों को किफायती आवास मुहैया करवाकर उनके ‘अपना घर’ के सपने को हकीकत में बदलने का काम कर रहा है। अब बोर्ड ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वर्ष 2022 तक ‘सबको आवास’ के लक्ष्य की तरफ एक कदम और बढ़ाते हुए प्राइवेट कॉलोनाइजरों द्वारा गरीबी रेखा से नीचे एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के परिवारों के लिए विकसित तकरीबन 20 हजार फ्लैटों का कब्जा दिया है।

ambala today news उपायुक्त की व्यस्तता के कारण निकायों के कार्य प्रभावित, निकाय कार्यों के शीघ्र निपटान के लिए जिले में एचसीएस अधिकारी तैनात किया जाएगा

बोर्ड के मुख्य प्रशासक अंशज सिंह ने बताया कि अब ये फ्लैट बीपीएल एवं ईडब्ल्यूएस से उसी श्रेणी में आबंटन के एक वर्ष के बाद जबकि किसी अन्य वर्ग को आबंटन के पांच साल के बाद हस्तांतरित किए जा सकते हैं। उन्होंने बताया कि फ्लैटों की पूरी कीमत देने के बाद आबंटन के पांच वर्ष के बाद कन्वेंस डीड भी करवाई जा सकती है।

ambala today newsउपायुक्त मुकुल कुमार ने कहा अम्बाला में कन्या भ्रूण हत्या को रोकने के लिए जो रेड की है, वह सराहनीय

गौरतलब है कि आवास बोर्ड द्वारा पहले इन फ्लैटों के आबंटन हस्तांतरण (अलॉटमेंट ट्रांसफर) के लिए कोई नीति नहीं थी। लेकिन अब बोर्ड द्वारा इनके आबंटन हस्तांतरण के लिए ‘निजी लाइसेंसशुदा कॉलोनियों में आवास बोर्ड हरियाणा द्वारा निर्मित बीपीएल परिवारों के लिए ईडब्ल्यूएस आवास इकाइयों के हस्तांतरण हेतु नीति’ के नाम से एक विस्तृत नीति तैयार की गई है। राज्य सरकार द्वारा पहली जुलाई, 2020 को इस नीति को स्वीकृति प्रदान की गई है।

ambala today news पढ़िए खबर मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने क्यू कहा कि भविष्य में किसी भी समय मास्क चालान की राशि 500 रुपये से बढ़ाकर 1000 रुपये कर दी जाएगी

 

About Post Author

Leave a Comment

और पढ़ें
%d bloggers like this: