ambala today news हरियाणा पुलिस ने ईनामी एवं मोस्ट वांटेड बदमाशों की धरपकड़ के लिए चलाए अभियान,ईनामी मोस्ट वान्टेड अपराधी अवैध हथियारों सहित काबू

चंडीगढ़। हरियाणा पुलिस महानिदेशक  मनोज यादव के निर्देशानुसार समस्त हरियाणा पुलिस ने ईनामी एवं मोस्ट वांटेड बदमाशों की धरपकड़ के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत सोनीपत जिले से 25000 रुपये के ईनामी एवं मोस्ट वांटेड अपराधी को अवैध हथियारों सहित गिरफ्तार किया गया है। हरियाणा पुलिस प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि गिरफ्तार आरोपी की पहचान देवेन्द्र निवासी पुरबालयाण जिला मुज्जफरनगर, यू०पी० के रूप में हुई है। अपराधी की गिरफ्तारी से हत्या, हत्या का प्रयास, चोरी, लूट व आम्र्स एक्ट के लगभग आधा दर्जन मामलों को खुलासा हुआ है।उन्होंने बताया कि सीआईए की टीम अपराधियों एंव असामाजिक तत्वों की खोज में बड़वासनी नहर पुल की सीमा में मौजूद थी कि इन्हें अपने विश्वस्त सूत्रो से पता चला कि 25 हजार रूपये का ईनामी एवं मोस्टवांटेड अपराधी देवेन्द्र अवैध हथियारों सहित किसी अपराधिक घटना को अन्जाम देने की फिराक में घुम रहा है। इस सूचना पर पुलिस टीम द्वारा अविलम्ब कार्यवाही करते हुये आरोपी को धर दबोचा। तलाशी लेने पर इसके कब्जा से एक अवैध देशी पिस्तौल व दो जिन्दा कारतूस मिले। ambala today news हरियाणा पुलिस ने ईनामी एवं मोस्ट वांटेड बदमाशों की धरपकड़ के लिए चलाए अभियान,ईनामी मोस्ट वान्टेड अपराधी अवैध हथियारों सहित काबू

ambala today news हरियाणा में GST घोटाला, कागजों में फर्म बनाकर हड़पे करोड़, 138 मामलों में से 69 मामले फर्जी

प्रारंभिक पूछताछ में खुलासा हुआ कि देवेन्द्र ने वर्ष 2009 में अपने साथियों के साथ मिलकर एक व्यक्ति का अपहरण कर गोली मारकर हत्या करने की घटना को अन्जाम दिया था। इस घटना का थाना सदर सोनीपत में अभियोग दर्ज किया गया था। पुलिस द्वारा इस पर 25 हजार रूपये का ईनाम घोषित किया था। न्यायालय द्वारा इसे वर्ष 2011 में फरार आरोपी घोषित किया था। ambala today news हरियाणा पुलिस ने ईनामी एवं मोस्ट वांटेड बदमाशों की धरपकड़ के लिए चलाए अभियान,ईनामी मोस्ट वान्टेड अपराधी अवैध हथियारों सहित काबू

आरोपी का आपराधिक रिकॉर्ड

  1. वर्ष 2005 में अपने साथियों के साथ मिलकर जिला मुज्जफरनगर यू0पी0 में राहगीरों को लूटने की अलग-अलग घटनाओं को अन्जाम दिया था।
  2. वर्ष 2006 में जिला मुज्जफरनगर यू0पी0 में अवैध शस्त्र रखने के संबंध में मुकदमा दर्ज है।
  3. वर्ष 2007 में गिरफतार आरोपी ने जिला मुज्जफरनगर यू0पी0 में एक चोरी करने की घटना को अन्जाम दिया था।
  4. वर्ष 2008 में अपने साथियों के साथ मिलकर देहरादून में हत्या प्रयास की घटना को अन्जाम दिया था।
  5. वर्ष 2011 में अपने साथियों के साथ मिलकर पटौदी जिला गुरुग्राम में तिहरे हत्याकांड को अन्जाम दिया था।

गिरफतार आरोपी को न्यायालय में पेशकर पुलिस रिमाण्ड पर लिया जायेगा। मामले में आगे की जांच जारी है।

ambala today news राज्य सरकार कृषि आधारित उद्योग स्थापित करने पर जोर देगी ताकि प्रदेश के किसानों को उनकी उपज के बेहतर दाम मिल सकें: दुष्यंत चौटाला

About Post Author

Leave a Comment

और पढ़ें
%d bloggers like this: