ambala today news पढ़िए खबर: अनलॉक-4 के बाद राज्य सरकार ने प्रदेश में आर्थिक गतिविधियों का बढ़ाने के लिए कैसे तैयार किया रोड-मैप

चंडीगढ़। हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यन्त चौटाला ने कहा कि अनलॉक-4 के बाद राज्य सरकार ने प्रदेश में आर्थिक गतिविधियों का बढ़ाने के लिए एक रोड-मैप तैयार किया है।  हालांकि कोविड-19 के दौरान भी औद्योगिक और आर्थिक सुधारों पर काम किया गया है, जिसके परिणामस्वरूप पांच दर्जन से ज्यादा बड़ी कंपनियों ने हरियाणा में निवेश के लिए अपनी रुचि दिखाई है। हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यन्त चौटाला ने यहां बताया कि विभिन्न कंपनियों ने चीन से अपना आधार (बेस) बदलना शुरू कर दिया है और वे हरियाणा को निवेश के लिए एक आदर्श गंतव्य के रूप में देख रही हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश में न केवल उद्योग के लिए अनुकूल माहौल बनाया है, बल्कि राज्य में नई इकाइयों की स्थापना के लिए एक छत के नीचे आवश्यक मंजूरी सहित विभिन्न सुविधाएं भी प्रदान की हैं हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यन्त चौटाला ने कहा कि हरियाणा में निवेशकों को आकर्षित करने की दृष्टि से राज्य सरकार ने भूमि और श्रम सुधारों पर काम किया है। इसके तहत, राज्य में नई इकाइयां स्थापित करने के अंतर्गत पहले 1000 दिनों के लिए कारखाना अधिनियम और औद्योगिक विवाद अधिनियम के प्रावधानों में राहत प्रदान की जाएगी। इसके अलावा, हरियाणा के इतिहास में पहली बार, राज्य सरकार ने भी प्रदेश में निवेश करने के इच्छुक उद्यमियों को लीजहोल्ड पर जमीन देने की अनुमति देने का फैसला भी किया है। ambala today news पढ़िए खबर: अनलॉक-4 के बाद राज्य सरकार ने प्रदेश में आर्थिक गतिविधियों का बढ़ाने के लिए कैसे तैयार किया रोड-मैप

ambala today news किसानों की आढ़तियों पर निर्भरता कम करने के लिए नई-नई योजनाएं लाई जा रही:मंत्री  जय प्रकाश दलाल

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यन्त चौटाला ने कहा कि राज्य सरकार ने विदेशी निवेशकों के साथ उचित समन्वय बनाए रखने के लिए विभिन्न देशों के साथ समन्वय स्थापित करने हेतू नोडल अधिकारी के रूप में कई आईएएस अधिकारियों को नियुक्त करने के अलावा ‘विदेश सहयोग विभाग’ अलग से बनाया है। उन्होंने कहा कि राज्य में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (एमएसएमई) को बढ़ावा देने के उद्देश्य से, राज्य सरकार ने कृषि आधारित उद्योगों पर विशेष ध्यान देने के साथ-साथ राज्य के सभी जिलों में कलस्टर स्थापित करने की योजना भी तैयार की है। उन्होंने कहा कि भारतीय मूल के लोग जो दूसरे देशों में रह रहे थे और अब वापस आ गए हैं, उन्हें भी इन कलस्टरों में अपनी इकाइयां स्थापित करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यन्त चौटाला ने कहा कि कोरोना अवधि में शिक्षा, स्वास्थ्य, खाद्य सुरक्षा, जन-स्वास्थ्य और आवास क्षेत्रों में बाजार के संबंध में राज्य की भूमिका को फिर से परिभाषित करने हेतू लघु और मध्यम अवधि की भावी योजना पर काम करने के लिए कई कार्य समूहों का गठन किया गया है। ambala today news पढ़िए खबर: अनलॉक-4 के बाद राज्य सरकार ने प्रदेश में आर्थिक गतिविधियों का बढ़ाने के लिए कैसे तैयार किया रोड-मैप

ambala today news किसी भी काम को लीक से हटकर करने की हिम्मत जुटाई जाए तो नि:संदेह उसके परिणाम काफी सुखद और प्रेरक हो सकते हैं

About Post Author

Leave a Comment

और पढ़ें