स्वास्थ्य विभाग में ठेके पर लगे कर्मचारियों को दिखा गया बाहर का रास्ता, 7 जून को स्वास्थ्य मंत्री को सौंपेंगे ज्ञापन

Employees on contract in health department were shown the way out

अंबाला (विनय भोला)। स्वास्थ्य विभाग ठेका कर्मचारी यूनियन के आह्वान पर हस्पताल के कर्मचारियो ने प्रमोद कुमार के नेतृत्व में फिजिकल डिस्टेंस की कड़ाई से पालना करते हुए मास्क लगाकर शिफ्ट बदलने के समय अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन किया। कर्मचारियों ने हाथों में मांगों की तख्तियां लेकर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की ओर सेवा सुरक्षा देने की मांग की। यूनियन के आह्वान पर अंबाला जिला के ठेका कर्मचारी 7 जून को स्वास्थ्य मंत्री महोदय को उनके निवास पर जाकर मांगों का ज्ञापन भी देंगे।
सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के राज्य महासचिव सतीश सेठी ने संबोधित करते हुए कहा कि स्वास्थ्य विभाग ने पहली जुलाई से 3200 सिक्योरटी गार्ड को हटाकर उनके स्थान पर होम गार्ड वालिंटियर लगाने का फैसला लिया है। इसी प्रकार अन्य सभी ठेका कर्मचारी जैसे वार्ड सर्वेंट, सफाई कर्मचारी, कम्प्यूटर आॅपरेटर, प्लम्बर, इलेक्ट्रिशयन, माली, सेवादार इत्यादि सभी की नई भर्ती के लिए टेंडर प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। इस प्रक्रिया से कर्मियों की छटनी होनी निश्चित है। भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार की यह कारवाही अमानवीय है। महामारी के चलते ठेका कर्मचारियो को नोकरी से हटाना उनके साथ जंहा घोर अन्याय होगा वंही सरकार का यह कदम कोविड-19 के खिलाफ जंग को भी कमजोर करेगा। उन्होंने सिक्योरटी गार्ड को न हटाने व टेंडर प्रक्रिया पर रोक लगाने की मांग की। प्रदर्शन में योगेश कुमार, सुखबीर,रवि, राजीव चोपड़ा, बबीता,राजीव कुमार, निशा , मलकप्रीत, आशीष कुमार मनोज कुमार इत्यादि शामिल रहे।

About Post Author

Leave a Comment

और पढ़ें