Haryana School Reopen News: सरकार ने अभिभावकों पर छोड़ा फैसला, स्कूल खोलने के लिए मांगी राय, पढ़िए पूरा मामला और दे अपनी राय

https://docs.google.com/forms/d/e/1FAIpQLSfRhGTsqc05Ll5EhiTPNeWybT7ST7GU2dnbwp2KMyGJ-KawmA/viewform

चंडीगढ़ (अंबाला कवरेज)। देशभर मेंकोविड 19 के कारण अप्रैल से बंद पड़े स्कूलों को खोलने केलिए एचआरडी मंत्रालय के साथ साथ हरियाणा सरकार ने अभिभावकों पर फैसला छोड़ दिया है। इसको लेकर हरियाणा सरकार की तरफ से एक आॅन लाइन सर्वें करवाया जा रहा है कि स्कूलों को खोला जाए या नहीं। इस संबंध में अभिभावको से राय मांगी गई है और अभिभावकों, टीचर्स, स्कूल प्रिंसिपल व अन्य द्वारा आई की राय के आधार पर फैसला लिया जाएगा कि आखिर स्कूलों को खोला जाए या फिर बंद रखा जाए। ऐसे में सवाल यह है कि यदि आप भी अभिभावक है और अपनी राय देना चाहते हैं तो कृपा इस लिंक पर क्लिक करके अपनी राय जरूर दें।

अगर सरकार को आप भी देना चाहते हैं राय तो क्लिक करे और अपनी राय दें

Ambala Today News: हरियाणा राज्य के सभी स्कूलों में 26 जुलाई 2020 तक ग्रीष्मकालीन अवकाश रहेगा -शिक्षा मंत्री

सरकार की तरफ से करवाए जा रहे सर्वें में जहां अभिभावकों से स्कूलों को खोलने या फिर बंद रखने के बारेमें राय मांगी जा रही है तो वही ंदूसरी तरफ सरकार यह भी सुझाव मांग रही है कि यदि स्कूलों को खोला जाता है तो वहां पर छात्रों की सुरक्षा और अन्य किन किन बिंदूओं पर ध्यान रखा जाए। वहीं सरकार ने साफ कर दिया कि देश व प्रदेशभर से आई राय के आधार पर फैसला लिया जाएगा कि आखिर स्कूलों को बंद खोला जाए। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के शिक्षा सचिवों को एक पत्र लिखा है। इस पत्र के माध्यम से सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा गया है कि वह स्कूल पुन: खोले जाने के विषय पर अभिभावकों से उनकी राय जानें। इस संबंध में हरियाणा सरकार की तरफ से आॅन लाइन सर्वें लिक भी जारी कर दिया गया है।

Ambala Today News: निजी स्कूलों की फीस सहित अन्य मुद्दों को लेकर स्कूल संचालकों व शिक्षामंत्री के बीच बैठक, पढ़िए किन मामलों पर हुई चर्चा

मानव संसाधन विकास मंत्रालय की ओर से जारी किए गए लेटर में स्पष्ट किया गया कि “अभिभावकों की स्कूलों से क्या अपेक्षा है। वे क्या चाहते हैं कि स्कूल कब से दोबारा शुरू कर दिए जाएं। स्कूल खोले जाने एवं छात्रों की सुरक्षा से जुड़े विषय पर अभिभावक चाहें तो कोई अन्य फीडबैक अथवा सुझाव भी दे सकते हैं।” केंद्र सरकार ने राज्य सरकारोंको कहा कि अधिक से अधिक अभिभावको ंको सर्वें में शामिल किया जाए और उनकी राय ली जाए, ताकि स्कूल खोलने का लेकर किसी तरह का कोई फैसला लिया जा सके। यहां पर जिक्र करना जरूरी है कि हरियाणा ही नहीं, बल्कि देशभर में 21 मार्च 2020 से स्कूल बंद पड़े हैंऔर कई बार स्कूलों को खोलने की बात उठी थी। लेकिन ऐसा संभव नहीं हो पाया। इससे पहले भी हरियाणा सरकार जिलास्तर पर अधिकारियों, स्कूलों व अभिभावकों के साथ स्कूल खोलने को लेकर चर्चा कर चुकी है। यह अलग बात है कि उस चर्चा पर किसी तरह का कोई फैसला नहीं हो पाया था।

Ambala Today News: नगर निगम का एलान, चैरिटेबल शैक्षणिक संस्थानों को प्रापर्टी टैक्स में 100 प्रतिशत छूट

About Post Author

Leave a Comment

और पढ़ें