हरियाणा के लोगों को जल्द ही पसीने वाली तपती गर्मी से मिल सकती है राहत

3

रोहतक। हरियाणा के लोगों को जल्द ही पसीने वाली तपती गर्मी से राहत मिल सकती है। 3 जुलाई तक हरियाणा में मॉनसूनी हवाये कमजोर रहने की संभावना से राज्य में मौसम परिवर्तनशील व बीच बीच में आंशिक बादल व हवाये चलने और कुछ एक स्थानों पर हल्की बारिश की संभावना है।  परन्तु 3 जुलाई देर रात्रि से मॉनसूनी  हवाओं के फिर से सक्रिय होने की संभावना को देखते हुए 4 जुलाई से 6 जुलाई के बीच राज्य में ज्यादातर क्षेत्रों में तेज हवाओं के साथ बारिश होगी। दक्षिण पश्चिमी मॉनसूनी हवाओं का हिमालय की तलहटीयों व उत्तर पूर्व व पूर्वोत्तर भागों की तरफ  चले जाने से उत्तरी भारत में विशेषकर हरियाणा राज्य मे  मौसम  गर्म  तथा तापमान सामान्य से अधिक हो गया। एक साइक्लोनिक सरकुलेशन सिस्टम पूर्वी उत्तरप्रदेश में तथा एक अन्य साइक्लोनिक सर्कुलेशन सिस्टम मध्य पाकिस्तान में बनने से मॉनसूनी हवाए फिर से मैदानी क्षेत्रों की तरफ बढ़नी शुरू हुई जिससे कल रात्रि  से राज्य में उत्तर पूर्व व दक्षिण हरियाणा में मौसम में हल्का बदलाव हुआ है।

मौसम आधारित कृषि सलाह

  •  अगले तीन दिन और मौसम परिवर्तनशील व गर्म रहने की संभावना को देखते हुए  धान की रोपाई पानी की उपलब्धता  अनुसार  करे । 
  • 4 जुलाई से बारिश की संभावना को देखते हुए बाजरा ग्वार  अरहर आदि फसलों की बिजाई करते समय बदलते मौसम का ध्यान अवश्य रख
  • नरमा कपास में निराई गुड़ाई करे ताकि बारिश होने पर नमी अच्छी प्रकार से संचित हो सकें 
  • 4 जुलाई से अच्छी बारिश की सभावना को देखते हुए नरमा कपास की फसल में जलनिकासी का प्रबंध अवश्य करे ताकि बारिश का पानी  ज्यादा देर तक फसल में खड़ा न रह सके  ।
  • प्रमाणित नर्सरी से उत्तम किस्मों के फलदार पौधों को लेकर बारिश के बाद खेतों में लगाना शुरू करे। अगले तीन दिनों तक मौसम परिवर्तनशील  व गर्म रहने की संभावना के कारण  सब्जियों व फलदार पौधों में आवश्यकतानुसार हल्की सिंचाई करे।

  हवा में बदलाव बार बार होने  की संभावना को देखते हुए राजस्थान के आसपास के जिलों के किसान भाई  टिड्डी दल के प्रति सजग रहे तथा खेतों में लगातार निगरानी रखे। यदि खेत में कहीं भी टिड्डी दिखाई दे तो तुरंत नजदीक के कृषि अधिकारी व कृषि विज्ञान केंद्र/ विश्विद्यालय के कीट विज्ञान विभाग के वैज्ञानिकों को तुरन्त सूचित करें।

​​​​​​​  कोरेना से बचाव हेतु किसान भाई मुहँ पर मास्क या गमोछा रखे, मंडी/ गांव व खेत में काम करते  समय  एक दूसरे के बीच व्यक्तिगत दूरी बना कर अवश्य  रखे तथा हाथों को समय समय पर साबुन या सेनेटाइजर से अवश्य साफ करे । स्वच्छता का ध्यान अवश्य रखे।

About Post Author

Leave a Comment

और पढ़ें