समाजसेवी इशाक भट्टी ने मिशन अस्पताल में बनवाई 50 बैड की बिल्डिंग

अंबाला (निखिल सोबती)। अंबाला में लगातार बढ़ रहे कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या के बाद अंबाला प्रशासन के लिए सबसेस बड़ी समस्या मरीजों के लिए आईसोलेशन सेंटर बनाने को लेकर खड़ी हो गई थी और इसी समस्या के सामने आने के बाद मिशन अस्पताल के डायरेक्टर सुनील सादिक सामने आए। उन्होंने मिशन अस्पताल के 150 बैड में से प्रशासन को 100 बैड का अस्पताल आईसोलेशन सेंटर के लिए देने का एलान कर दिया और तुरंत मरीजों का इलाज भी शुरू कर दिया। इसी बीच मरीजों की संख्या बढ़ी तो कुछ ही दिनों ने मिशन अस्पताल ने समाजसेवी इशाक भट्टी के सहयोग से 50 बैड का अतिरिक्त आईसोलेशन वार्ड कोरोना पॉजिटिव मरीजों के लिए तैयार कर दिया। विधायक असीम गोयल ने इस आईसोलेशन वार्ड का शुभारंभ किया। वहीं सुनील सादिक ने कहा कि समाजसेवी इशाक भट्टी ने इस आईसोलेशन वार्ड को बनाने में करीब 25 लाख रुपए का सहयोग किया और अब 200 बैड वाले मिशन अस्पताल के 150 बैड कोरोना पॉजिटिव मरीजों के इलाज के लिए दिए गए हैं।
विधायक ने मिशन अस्पताल व भट्टी की जमकर तारीफ
आईसोलेशन वार्ड के शुभारंभ अवसर पर विधायक असीम गोयल ने मिशन अस्पताल के डायरेक्टर सुनील सादिक व समाजसेवी इशाक भट्टी की जमकर तारीफ की। गोयल ने कहा कि जब से कोरोना महामारी शुरू हुई है तब से सुनील सादिक अंबाला के लोगों की सेवा करने मे ंलगे हैं। पहले अस्पताल के साथ मिलकर अलग अलग कालोनियों में जाकर मेडिकल कैंप लगाए और अब कुछ ही दिनों में 50 बैड का अतिरिक्त आईसोलेशन वार्ड तैयार करके यह साबित कर दिया कि मिशन अस्पताल अपने सामाजिक दायित्व को निभाने में किसी से पीछे नही है।


बिल्कुल अलग बनाया गया आईसोलेशन वार्ड: सादिक
मिशन अस्पताल के डायरेक्टर सुनील सादिक ने कहा कि मिशन अस्पताल में बिल्कुल अलग से कोरोना मरीजों के लिए आईसोलेशन वार्ड बनाया गया है और अस्पताल में आने वाले मरीजों को किसी तरह से घबराने की जरूरत नही। उन्होंने कहा कि कोरोना पॉजिटिव मरीजों की देख रखे में लगा स्टाफ भी अलग है और उनके आने जाने का रास्ता भी अलग है। साथ ही सादिक ने कहा कि इस 50 बैड के अलग आईसोलेशन वार्ड को बनाने में समाजसेवी इशाक भट्टी की अहम भूमिका है और जिन्होंने आर्थिक मदद करके अंबाला के लोगों के प्रति अपने दायित्व को निभाया।
समाजसेवी ही मेरा मुख्य उद्देश्य: भट्टी
समाजसेवी इशाक भट्टी ने कहा कि समाजसेवा ही उनका मुख्य उद्देश्य है और वह अपने इस दायित्व को हमेशा निभाते रहेंगे। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी से निपटने के लिए हर साधन संपन्न व्यक्ति को आगे आते हुए अपने सामाजिक दायित्व को निभाना चाहिए। उन्होंने कहा कि साधन संपन्न लोगों द्वारा किया गया सहयोग इस कोरोना महामारी से लड़ने में अहम भूमिका अदा करेगा। वहीं उन्होंने कहा कि प्रभू ईशू की कृपा से यदि भविष्य में भी किसी तरह के सहयोग की जरूरत पड़ी तो वह पीछे हटेंगे।

About Post Author

Leave a Comment

और पढ़ें