कोविड-19 के दृष्टिगत किए गए प्रबंधों को लेकर मंडलायुक्त दीप्ती उमाशंकर ने किया अंबाला छावनी नागरिक अस्पताल का निरीक्षण

Divisional commissioner Umashankar inspected Ambala Cantonment civil hospital regarding arrangements made in view of Kovid-19

अंबाला। नोडल अधिकारी एवं मंडलायुक्त दीप्ती उमा शंकर ने कोविड-19 के दृष्टिगत किए गए प्रबंधों का जायजा लेने के लिए रविवार अंबाला छावनी नागरिक अस्पताल में बनाए गए आईसोलेशन वार्ड, कोविड केयर सैन्टर, टेस्टिंग प्रक्रिया, आक्सीजन बैड, वैन्टीलेटर के साथ-साथ अन्य चिकित्सा सुविधाओं का बारिकी से निरीक्षण किया। इस मौके पर उनके साथ उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा, एसडीएम सुभाष चन्द्र सिहाग व सिविल सर्जन डॉ कुलदीप सिंह मौजूद रहे। इसके उपरांत उन्होंने केंटेनमैंट जोन व बाहर से आने वाले व्यक्तियों के लिए बनाए गए क्वांटाईन सैंटरों का भी जायजा लेकर वहां की व्यवस्थाओं की जानकारी ली।
मंडलायुक्त दीप्ती उमाशंकर ने निरीक्षण के दौरान सबसे पहले अंबाला छावनी नागरिक अस्पताल में कोविड-19 के मद्देनजर की गई चिकित्सा व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने आईसोलेशन वार्ड व वेंटिलेटर वार्ड में जाकर तमाम व्यवस्थाओं का चिकित्सकों से तथा वहां पर मौजूद स्टाफ से जानकारी ली। उपायुक्त ने मंडलायुक्त को यहां पर की गई व्यवस्थाओं के बारे में बताते हुए कहा कि यहां पर 5 वैटिंलेटर स्थापित किए गए हैं, जबकि जिले में लगभग 100 वैंटिलेंटर विभिन्न अस्पतालों में व्यवस्था की गई हैं। इसके साथ-साथ रोटरी अस्पताल, मिशन अस्पताल में भी कोविड-19 के दृष्टिगत प्रबंध किए गए हैं। उन्होनें यह भी बताया कि डॉक्टरों द्वारा प्रतिदिन 400 से 500 व्यक्तियों की टेस्टिंग की जा रही हैं और जिस भी व्यक्ति में कोविड-19 के लक्षण नजर आते है उसके तहत आगे की प्रक्रिया अपनाते हुए उसे उपचार देने का कार्य किया जा रहा हैं। उन्होंने यह भी बताया कि पिछले कई दिनों से अंबाला जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा बढ़ा हैं। प्रतिदिन लगभग 15 से 20 मरीज कोरोना से संक्रमित पाए जा रहे हैं और उनकी ट्रेवल हिस्ट्री या तो बाहर की है या वे संक्रमित व्यक्तियों के सम्पर्क में आए हैं।
उन्होंने यह भी कहा कि सुखद बात यह हैं कि जितने मरीज कोरोना संक्रमित पाए जा रहे हैं उसी अनुपात में ही कोरोना संक्रमित मरीज ठीक हो रहे हंै और उन्हें डिस्चार्ज किया जा रहा हैं। प्रशासन द्वारा नियमित रूप से बाहर से आने वाले व्यक्तियों को अपनी सूचना प्रशासन को देने बारे सूचित किया जा रहा है। उसका मकसद यही हैं कि संबंधित व्यक्तियों की पहचान करके स्वास्थ्य की जांच की जा सके और संक्रमण को फैलने से रोका जा सकें। मंडलायुक्त ने इसके उपरांत केन्टेनमैन्ट जोन रामबाग रोड व आहलुवालिया बिल्ंिडग में भी जाकर वहां पर सुरक्षा की दृष्टि से किए गए प्रबन्धों का जायजा लिया। उन्होंनं केंटेनमैन्ट जोन के तहत लोगों को किसी प्रकार की परेशानी आ रही है या नहंी इस बारे में जानकारी ली, वहंी ऐसे समय में आशावर्कर व मेडिकल टीम द्वारा लोगों की नियमित स्वास्थ्य की जांच करने के लिए उन्हें प्रोत्साहित भी किया।
उपायुक्त ने मंडलायुक्त को अवगत करवाया कि रामबाग रोड पर जो केन्टोनमैन्ट जोन बनाया गया है उसमें कोरोना से संक्रमित 3 मरीज पाए गए हैं, जो कि एक कोरोना संक्रमित व्यक्ति के सम्पर्क में आए थे। यहां पर दोनों तरफ पुलिस द्वारा बैरिकेटिंग की गई है, किसी भी तरह की अनावश्यक मूवमेन्ट नहीं हैं। लोगों को जो आवश्यक सुविधाएं की जरूरत है उन्हें उन तक पहुंचाया जा रहा हैं। इसी प्रकार उन्होंने आहलुवालिया केन्टेमैंन्ट जोन में भी जाकर वहां की तमाम व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इसी विषय के क्रम में मंडलायुक्त ने बाहर से आने वाले व्यक्तियों के लिए क्वांटाईन की व्यवस्था के तहत क्या-क्या कार्य किए गए हैं, इसकी जानकारी लेते हुए श्री यादव धर्मशाला व बतरा होटल अंबाला छावनी में भी जाकर वहां का निरीक्षण किया। श्री यादव धर्मशाला में बाहर से आए लगभग 100 व्यक्तियों को क्वांटाईन किया गया हैं। उपायुक्त ने मंडलायुक्त को बताया कि यादव धर्मशाला के साथ-साथ बतरा होटल में भी बाहर से आने वाले व्यक्तियों को क्वांटाईन करने के लिए व्यवस्था की गई हैं।
उपायुक्त ने इस मौके पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि प्रशासन द्वारा कोविड-19 के दृष्टिगत सभी व्यापक प्रबन्ध किए गए हैं। कोरोना से घबराने की जरूरत नहीं, बल्कि सावधानी बरतते हुए इसका मुकाबला करना हैं। निरीक्षण के दौरान सभी चिकित्सा सुविधाओं का जायजा लिया गया हैं। यदि आपातकालीन स्थिति उत्पन्न होती हैं, तो उसके दृष्टिगत भी प्रबन्ध कर लिए गए हैं। उन्होनें बताया कि 20 जून से पहले सभी नालों की सफाई व्यवस्था दुरूस्त हो जाएगी, उन्होंने स्वयं पिछले दिनों अधिकारियों के साथ दौरा करके सफाई व्यवस्था को दुरूस्त करने के लिए निर्देश दिए थे, इसके अलावा एसडीएम भी अपने-अपने क्षेत्रों में सफाई व्यवस्था का कार्य सुचारू रूप से चल रहा है उसका भी जायजा ले रहें हैं। शॉर्ट टर्म की परियोजनाओं पर भी काम चल रहा हैं और जो लोंग टर्म की परियोजनाएं है उन पर भी तेजी से कार्य करते हुए उन्हें भी समयअवधि के तहत पूरा कर लिया जाएगा।

About Post Author

Leave a Comment

और पढ़ें