जनहित के जो भी विकास कार्य लम्बित पड़े हैं उनको आज ही तुरन्त प्रभाव से शुरू करवाया जाए: गृह मंत्री अनिल विज

गृह मंत्री अनिल विज

अम्बाला! जनहित के जो भी विकास कार्य लम्बित पड़े हैं उनको आज ही तुरन्त प्रभाव से शुरू करवाया जाए। विकास कार्यो को शुरू करवाने में यदि किसी भी अधिकारी को कोई परेशानी नजर आती हैं, तो मामला संज्ञान में लाया जाए, ताकि सदंर्भित विषय को लेकर उच्च अधिकारियों से बात की जा सकें। ये निर्देश गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने स्थानीय सर्कि ट हाउस में बुलाई गई अधिकारियों की बैठक में विकास कार्यो की समीक्षा के दौरान कहीं। उन्होनें कहा कि जनहित की कल्याणकारी योजनाओं और परियोजनाओं के तहत विकास कार्यो में गुणवत्ता और पारदर्शिता साफ नजर आनी चाहिए। इन कार्यो में किसी भी प्रकार की लापरवाही बरतनें वाले अधिकारी स्वयं जिम्मेवार होगें।
गृह मंत्री अनिल विज ने प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक में अम्बाला-साहा चारमार्गी सडक़ के चल रहे निर्माण कार्य की वास्तविक जानकारी लेते इस निर्माण कार्य को तेजी से किए जाने के निर्देश दिये। समीक्षा बैठक में जो फैसले लिये गये हैं, मंगलवार से उन पर कार्रवाई के भी निर्देश दिये। एनएचएआई के अधिकारी सबसे पहले सडक़ निर्माण के कार्यो सहित अन्य सभी जरूरी कार्य प्राथमिकता के आधार पर शुरू करना सुनिश्चित करें।
समीक्षा बैठक के दौरान गृह मंत्री ने एंजैडे में रखे तमाम बिंदुओं बारे अधिकारियों से विस्तार से चर्चा की और उन द्वारा जो भी समस्या या अन्य कारण बताए गये, उनको भी जाना। उन्होंने एनएचएआई के अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिये कि सडक़ निर्माण कार्य तेजी के साथ शुरू करें और इसके तहत शहरी क्षेत्र को भी प्राथमिकता के आधार पर कवर करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि एनएचएआई विभाग से सम्बन्धित भी यदि कोई समस्या या कोई परेशानी है तो वे भी बताएं ताकि वे उच्च स्तर पर बात करके उसका समाधान करवा सकें। उन्होंने कहा कि निर्माण कार्य के तहत जो भी अवैध निर्माण हैं और जो सडक़ के बीच में आ रहा है उसे तुरंत हटवाएं, बेवजह किसी को भी तंग न करें, इस कार्य में किसी भी प्रकार का भेदभाव न करें, जो जायज है उसे तुरंत करना सुनिश्चित करें।
बैठक के दौरान नेशनल हाइवे, लोक निर्माण विभाग, जन स्वास्थ्य विभाग, सिंचाई विभाग, वन विभाग, हरियाणा बिजली वितरण निगम, नगर परिषद्, स्वास्थ्य विभाग व भारत संचार निगम सहित अन्य सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों के साथ क्रमवार तरीके से एंजैडे में रखे बिंदुओं बारे उनसे जानकारी ली। गृहमंत्री ने वन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि लॉकडाउन के चलते सडक़ के निर्माण में जो पेड़ बाधा उत्पन्न कर रहे थे उनमें से जो कटने शेष हैं उन्हे भी कटवाना सुनिश्चित करें, ताकि बिना समस्या के सडक़ का निर्माण कार्य सुचारू रूप से चलता रहे।
इसके उपरांत उन्होंने जल भराव के विषय पर सम्बन्धित अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिये कि मानसून अबकी बार एक माह पहले आ रहा है, इसके चलते वे सभी नालों की सफाई करवाना सुनिश्चित करें ताकि बरसात के मौसम में लोगों को किसी भी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े। अम्बाला छावनी रेलवे स्टेशन के नजदीक रेलवे संबधी नाले की दोनों तरफ की सफाई का कार्य करवाना सुनिश्चित करें। इसके अलावा जो भी बड़े नाले हैं उनको भी समय रहते साफ करवाना सुनिश्चित करें, इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही सहन नहीं की जायेगी। बीते कल बरसात के कारण काफी जगहों पर जल भराव की समस्या आई है इसलिए अधिकारी पहले सुनिश्चित कर लें कि नालों के सफाई कार्य में किसी भी प्रकार की समस्या न आने दें।
गृहमंत्री ने बैठक में अधिकारियों से सम्बधिंत विषयों के बारे विस्तार से जानकारी ली, वहीं यह भी कहा कि लॉकडाउन के चलते निर्माण कार्य रूक गये थे, सभी विकास कार्यो को तुरन्त प्रभाव से शुरू किया जाए। अम्बाला छावनी विधानसभा क्षेत्र के सभी प्रोजैक्ट जैसे सुभाष पार्क, बैंक स्कवेयर, मिनी सचिवालय, स्टेडियम, वार हीरोज मैमोरियल स्टेडियम, हॉस्टल सहित अन्य सभी पर तेजी से कार्य करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि जो भी लेबर लेकर आनी है वह लेकर आएं, प्रोजैक्टों में तेजी लाएं ताकि जनता को इन विकास कार्यों की सौगात शीघ्रता से मिल सके।
गृहमंत्री ने बैठक के उपरांत पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि जल-भराव की स्थिति उत्पन्न न हो इसके लिए सम्बन्धित अधिकारियों को ड्रेनों की सफाई दुरूस्त करने के निर्देश दिये गये। पत्रकारों द्वार पूछे गये प्रश्न का उत्तर देते हुए गृहमंत्री ने बताया कि लॉकडाउन सारी परिस्थितियों को देखते हुए व अध्ययन करते हुए लागू किया गया था और अब अनलॉकडाउन भी विशेषज्ञों की सलाह अनुसार एवं सभी स्थितियों को देखते हुए खोलने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि कोरोना से निपटने के लिए केन्द्र व प्रदेश सरकार ने बेहतर तरीके से कार्य किए हैं, जो अब भी जारी हैं। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए हमें स्वयं खुद की रक्षा करते हुए सामाजिक दूरी, मास्क पहनना, निर्धारित समय अवधि के दौरान हाथों की सफाई रखना जरूरी हैं।
इस मौके पर पुलिस अधीक्षक अभिषेक जोरवाल, सीईओ अनुज गोयल, एडीसी जगदीप ढांडा, एसडीएम सुभाष चंद्र सिहाग, एसडीएम गौरी मिड्डा, नगर परिषद् के प्रशासक डा0 सुशील मलिक, मुख्यमंत्री सुशासन सहयोगी रूखबा, अधीक्षक अभियंता आर.के. खन्ना, संजीत कुमार, वी.पी. कम्बोज, अशोक शर्मा, डीआईपीआरओ धर्मवीर सिंह, सिविल सर्जन डा0 कुलदीप सिंह, डीआरओ कैप्टन विनोद शर्मा, डीडीपीओ रेणू जैन, जिला कार्यक्रम अधिकारी बलजीत कौर, मीडिया कोर्डिनेटर विजेन्द्र चौहान, कार्यकारी अभियन्ता निशांत सिंह, एनएचएआई के पदाधिकारी सहित सम्बन्धित अधिकारीगण मौजूद रहे।
बॉक्स:- पत्रकारों द्वारा विपक्षी नेता सुरजेवाला के संम्बध में पूछे गए एक प्रश्न का उत्तर में कहा कि सुरजेवाला बार-बार हारने के बाद अपनी सुझ-बुझ खो चुके हैं और अनाप-शनाप ब्यानबाजी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि केन्द्र द्वारा 20 लाख करोड़ रूपये का आर्थिक पैकेज सभी लोगों के हितों को ध्यान में रखकर जारी किया गया है और इसका आने वाले समय में समाज के हर वर्ग को सीधा लाभ मिलेगा, आर्थिक व्यवस्था सुधरेगी और जीवन दोबारा विकास की पटरी पर लौट आएगा।
बॉक्स:- गृह मंत्री ने समीक्षा बैठक से पूर्व जिला प्रशासन द्वारा लॉकडाउन के तहत ग्रासरूट पर कार्य करने वाली आंगनवाड़ी वर्कर, आशा वर्कर व महिला सरपंच को दो हजार पीपीई किट, 5640 जूट के बैग, दो हजार सैनीटरी पैड जोकि स्वयं सहायता समूह द्वारा बनाए गये हैं,  वितरित किए। मौके पर उपस्थित डीसी अशोक कुमार और जिला कार्यक्रम अधिकारी बलजीत कौर ने बताया कि बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओं स्कीम के तहत जिला अम्बाला का लिंगानुपात हरियाणा में प्रथम रहा हैं। जिसकी प्रोत्साहन राशि से ग्रास रूट पर कार्य करने वाली आंगनवाड़ी कार्यकत्र्ताओं, आशा वर्करों व महिला सरपंचों का प्रोत्साहन बढ़ाने के लिए यह कार्य किया गया हंै।
बॉक्स:- इस मौके पर प्रशासन द्वारा पीपीई किटे भी वितरित की गई, जिनके साथ जूट के बैग, सैनेटरी नैपकीन भी सम्बधिंत को दिए गए। जिला में कार्यक्रम अधिकारी द्वारा जितने भी रिलिफ कैम्प लगाए गए सभी रिलिफ कैंम्पों में सम्बध्ंिात महिलाओं को उपरोक्त समान वितरित किया गया हैं। इस सन्दर्भ में जब गांव तेपला की सरपंच सुमनित कौर से बात की गई तो उन्होनें बताया कि कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सभी द्वारा अच्छा सहयोग दिया जा रहा हैं। पंचायती राज संस्थाओं की भागीदारी भी अनुकरणीय और पे्ररक रही हैं।

About Post Author

Leave a Comment

और पढ़ें
%d bloggers like this: