today news पढ़िए खबर: अगर आप भी मिलना चाहते है मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री से तो इस पोर्टल के माध्मय से होगी ऑनलाइन अपाईटमेंट

आज दिल्ली में @BJP4India के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री @JPNadda जी से औपचारिक मुलाकात की और हरियाणा सरकार के विकास कार्यों समेत अन्य महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा की। pic.twitter.com/OG0VoMdCja— Dushyant Chautala (@Dchautala) June 26, 2020

चंडीगढ़ (अंबाला कवरेज)  हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने सूचना प्रौद्योगिकी का अधिक से अधिक उपयोग कर जनता को पारदर्शी व सहज तरीके से नागरिक सेवाएं उपलब्ध कराने की सुशासन संकल्प की अपनी प्रतिबद्धता में आज एक और अध्याय जोड़ते हुए ‘ई-सचिवालय’ https://esachivalaya.edisha.gov.in पोर्टल को लॉन्च किया, जो लोगों को मुख्यमंत्री, उप-मुख्यमंत्री, मंत्रियों व अन्य विभागाध्यक्षों के साथ वर्चुअल बैठकें आयोजित करने के लिए आसानी से ऑनलाइन अपॉइंटमेंट की सुविधा प्रदान करेगा।  उद्घाटन अवसर पर मुख्यमंत्री के साथ उप मुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चौटाला भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने प्रदेश के लोगों से अपील की है कि सरकार से संबंधित अपने कार्यों के लिए इस पोर्टल का उपयोग करें और इस कोरोना संकट के समय में सरकारी कार्यालयों में आने के लिए यात्रा करने का जोखिम न उठाएं बल्कि स्टे एट होम का पालन करके इस पोर्टल से जुड़ कर अपनी समस्याओं व कार्यों का समाधान पाएं। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने सभी प्रशासनिक सचिवों, मंडल आयुक्तों, और उपायुक्तों को संबोधित करते हुए कहा कि ई-सचिवालय अवधारणा के साथ ही लोगों को चंडीगढ़ आने की आवश्यकता नहीं होगी और वे मंत्रियों व अधिकारियों से मिलने का टाइम स्लॉट अपने मोबाइल फोन, लैपटॉप किसी भी माध्यम से ले सकते हैं और 24 घंटों के अंदर-अंदर उन्हें बातचीत करने के लिए समय की जानकारी दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले 6 वर्षों में ई-गर्वनेंस के जरिए सुशासन की दिशा में अनेक ऑनलाइन सेवाएं शुरू की गई हैं।

today news ambala बिना गारंटी के अगर आप भी लेना चाहते है ऋण तो इन सुविधा पर बैंक करवाएगा उपलब्ध

कोविड-19 के दौरान एमएसएमई की सुविधा के लिए हरियाणा उद्यम सहयोग (एचयूएम) पोर्टल का भी लॉन्च किया गया है। इसी प्रकार, शिक्षा के लिए लर्निंग मैनेजमेंट सिस्टम सॉफ्टवेयर के माध्यम से ऑनलाइन शिक्षा उपलब्ध करवाई गई है। कोविड-19 के दौरान चाहे वह किसान है, दुकानदार है, मजदूर है, कर्मचारी है या आमजन है, हर किसी के लिए ऑनलाइन सुविधा प्रदान करने के लिए विभिन्न पोर्टल लॉन्च किए गए हैं। आमजनता को कोविड के दौरान मुख्यमंत्री व मंत्रियों और मुख्यालय चंडीगढ़ से संपर्क करने में कठिनाई आ रही थी, इसी को देखते हुए आज ई-सचिवालय पोर्टल लॉन्च किया गया है। उद्घाटन अवसर पर इस बात की भी जानकारी दी गई कि वर्तमान में 6 हजार अटल सेवा केंद्र ग्रामीण क्षेत्र में तथा शहरों में 115 सरल व अंत्योदय केंद्र हैं, जिन पर 39 विभागों की 542 सेवाएं व योजनाएं ऑनलाइन उपलब्ध हैं। इन केंद्रों के माध्यम से भी ई-सचिवालय के लिए ऑन्लाइन अपॉइंटमेंट ली जा सकती है। इस अवसर पर मुख्य सचिव श्रीमती केशनी आनन्द अरोड़ा ने सभी उपायुक्तों से आग्रह किया कि वे अपने सचिवालय के कर्मचारियों को ई-सचिवालय का प्रशिक्षण दिलवाएं, जिसके लिए एनआईसी ने प्रशिक्षण कार्यक्रम तैयार किया है। आज सायं 4 बजे नए सचिवालय, सेक्टर-17, चण्डीगढ़ में एनआईसी द्वारा कार्यक्रम की जानकारी सभी उपायुक्तों को दी जाएगी। इसके बाद मुख्यमंत्री ने ऑनलाइन प्लाजमा दान करने के लिए भी पोर्टल लॉन्च किया। इसके लिए जो व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव होने के बाद ठीक हो गए हैं, ऐसे व्यक्तियों के पास प्लाजमा दान करने के लिए उनके मोबाइल पर एसएमएस आएगा, जिसके द्वारा उन्हें प्लाज़मा दान करने का आग्रह किया जाएगा।
today news ambala रैपिड टेस्ट किट के बजाय आरटी-पीसीआर का उपयोग करके कैदियों का परीक्षण किया जाएगा

वर्तमान में राज्य के गुरुग्राम, फरीदाबाद, रोहतक व पंचकूला में प्लाजमा बैंक खोले गए हैं। कोरोना पॉजिटिव होने के बाद ठीक होने वाले कोविड-19 संघर्ष सेनानियों की संख्या 20 हजार है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री राजेश खुल्लर, गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव और वित्तायुक्त राजस्व श्री विजय वर्धन, चिकित्सा शिक्षा व अनुसंधान विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री आलोक निगम, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव श्री वी. उमाशंकर, उप-प्रधान सचिव श्रीमती आशिमा बराड़, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के प्रधान सचिव श्री अंकुर गुप्ता, सामान्य प्रशासन विभाग के प्रधान सचिव श्री विजयेंद्र कुमार, श्रम विभाग के प्रधान सचिव श्री विनीत गर्ग, कार्मिक, प्रशिक्षण, सतर्कता और संसदीय मामलों विभाग के सचिव श्री नितिन यादव सहित एनआईसी के अधिकारी उपस्थित थे।

About Post Author

Leave a Comment

और पढ़ें