today news पढ़िए खबर जिला के कौन-कौन से 12 क्षेत्र हुए कंटैनमैंट जोन मुक्त: उपायुक्त

2
यमुनानगर (अंबाला कवरेज)  जिला प्रशासन व स्थास्थ्य विभाग के प्रयासों से कोरोना संक्रमित मरीजों के ठीक होने की गति निरंतर बढ रही हैं। जिला में 12 अन्य क्षेत्रों को आज कंटैनमैंट जोन से मुक्त घोषित किया गया है। जिला में कोरोना संक्रमित मरीजों के ठीक होने का आंकड़ा 81.5 प्रतिशत तक पहुंच चुका है।  उपायुक्त मुकुल कुमार ने बताया कि कंटैनमैंट जोन के आखिरी मरीज के अस्पताल से ठीक होकर डिस्चार्ज होने के 28 दिन बाद ही सम्बंधित क्षेत्र एवं कालोनी से कंटेनमैंट जोन को हटाया जाता है। उन्होंने बताया कि नगर निगम क्षेत्र के विशाल नगर के मकान नम्बर-1 से 7 व 50 से 54 को कंटेनमैंट जोन घोषित किया गया था। इस कालोनी से नोवल कोरोना वायरस कोविड-19 के आखिरी पोजिटिव केस को ईएसआई कोविड अस्पताल से 25 जून को डिस्चार्ज किया गया था और तब से अब तक इस क्षेत्र में कोई भी नया कोरोना केस नहीं पाया गया है। अत: इस क्षेत्र को कंटेनमैंट जोन से हटा दिया गया हैै और इसके साथ लगते क्षेत्र को बफर जोन से भी हटाया गया है।
उपायुक्त ने बताया कि जगाधरी खण्ड के गांव दयालगढ़ को, नगर निगम क्षेत्र के गांव रायपुर को, सुभाष गली न्यू मार्किट यमुनानगर को, दुर्गा गार्डन में मकान नम्बर-737 से 747 को, सढ़ौरा ब्लाक के गांव सादिकपुर को, मोदी कम्पलैक्स लक्ष्मी नगर को, नगर निगम क्षेत्र के रूप नगर को, आजाद नगर की गली नम्बर-9 को, कृष्णा नगर के मकान नम्बर-123 से 135 को, नगर निगम क्षेत्र की बलवंत राय कालोनी नजदीक ओ.पी. जिंदल पार्क को, राजपत नगर के मकान नम्बर- 443 से 462 को कंटेनमैंट जोन घोषित किया गया था। अब नोवल कोरोना वायरस कोविड-19 के आखिरी पोजिटिव केस के ईएसआई कोविड अस्तपाल से उक्त सभी क्षेत्रों के मरीजों को 25 जून 2020 को डिस्चार्ज किया गया था और तब से अब तक इस उक्त गांवों एवं शहरी क्षेत्रों में कोई नया कोरोना केस नहीं पाया गया है। उपायुक्त मुकुल कुमार ने बताया कि उक्त गांवों, नगर निगम के शहरी क्षेत्रों को कंटेनमैंट व बफर जोन से हटाने की कार्यवाही भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की निर्धारित हिदायतों व नियमों के अनुसार की गई है।

About Post Author

Leave a Comment

और पढ़ें