सुभाष पार्क के औचक निरीक्षण पर निकले अनिल विज, पानी खड़ा देखकर पढ़िए क्या बोले

अंबाला (सौरभ कपूर)। गृह, शहरी, स्थानीय निकाय एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने रविवार को बरसात के मौसम में सुभाष पार्क का औचक निरीक्षण करते हुए यहां की वास्तविकता की जानकारी ली। उन्होंने निरीक्षण के दौरान सौन्दर्यकरण के तहत यहां चल रहे निर्माण कार्यों की संबंधित अधिकारियों से जानकारी ली और जहां पर लेवल सही नहीं होने के कारण बरसाती पानी एकत्रित था, उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे लेवल को ठीक करें ताकि कहीं भी पानी का जमाव नहीं होना चाहिए। जलभराव की सही स्थिति का आकलन करने के लिए ही, उन्होंने बरसात मे आकर यहां निरीक्षण किया हैं।
स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने सुभाष पार्क का निरीक्षण करते हुए यहां पर सौंदर्यकरण के तहत किए जा रहे निर्माण के अब तक क्या-क्या कार्य कर लिए है और आगे क्या-क्या किया जाना हैं। इसके बारे में भी विस्तार से जानकारी ली। उन्होंने इस दौरान सुभाष पार्क के अंदर फुटपाथ ट्रैक के साथ-साथ अन्य निर्माण कार्यो की भी जानकारी लेते हुए उनकी वास्तविकता की जांच करते हुए, उन्होंने कहा कि सुभाष पार्क को लेकर हजारों लोगों के सपने हैं, यह हजारों लोगों के हृदय में बसने वाला पार्क है ,इसलिए इसकी सुंदरता मे कमी नहीं रहनी चाहिए ।

स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज 18 करोड़ रुपए की लागत से इस पार्क का सौन्दर्यकरण किया जा रहा है ।जिसके तहत यहां पर नौका विहार (बोटिंग), चिल्ड्रन कोर्नर, फुड कोर्नर, रंगीन फव्वारा, ओपन ऐयर थियेटर, बच्चों के लिए झुले, स्केटिंग रिंग इत्यादि की सुविधा होगी। यह पार्क पूर्णरूप से सीसीटीवी कैमरों से लेस रहेगा। इसके साथ- साथ पार्क मे लगे रंग-बिरंगे फूल पार्क की सुंदरता में चार चांद लगाएंगे । इसके बनने के बाद इन सुविधाओं का लाभ लेकर लोग अपने आप को आनंदित महसूस करेंगे। उन्होने कहा कि पर्यटन की दृष्टि से अम्बाला में बहुत कुछ कार्य हो रहे हैं और इन कार्यों के पूरा होने के बाद अम्बाला छावनी की सुंदरता बहुत बढ़ेगी। पार्क को हाईवे से जोड़ने के लिए सड़क का निर्माण भी किया गया है। जिससे यह पार्क अंबाला-जगाधरी मार्ग से जुड़ गया है। यहां पर नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की प्रतिमा भी लगाई गई हैं। उन्होनें अधिकारियों को चल रहे निर्माण कार्यो को पूरी गुणवत्ता के साथ समय अवधि में पूरा करने के निर्देश भी दिए।

About Post Author

Leave a Comment

और पढ़ें