Today News: सरकारी स्कूलों ने भी जमाया रंग, घोषित 12वीं कक्षा परिणाम में मचाई धूम

घोषित 12वीं कक्षा परिणाम में मचाई धूम
यमुनानगर (अंबाला कवरेज)। जिला यमुनानगर के इतिहास में पहली बार जिला ने पूरे राज्य में हरियाणा बोर्ड भिवानी द्वारा घोषित 12वीं कक्षा परिणाम में तीसरा स्थान प्राप्त किया है। इससे पहले जिला यमुनानगर सबसे खराब पदर्शन करने वाले जिलों में था, परन्तु अब यह अपनी छवि अच्छे रिजल्ट देने वाले जिलों में बना चुका है। यह इसलिए संभव हो पाया है कि सभी अधिकारियों, अध्यापकों, अभिभावकों तथा बच्चों ने कड़ी मेहनत की है। यह जानकारी देते हुए उपायुक्त मुकुल कुमार ने बताया कि यमुनानगर ने पूरे हरियाणा राज्य में हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड भिवानी की सत्र 2019-2020 की 12वीं कक्षा के परिणामों में तीसरा स्थान प्राप्त किया है।
इससे पहले यह वर्ष 2019 में 21वें स्थान पर था। इस वर्ष घोषित 12वीं कक्षा परिणाम में 85.92 प्रतिशत रहा है। उन्होंने बताया कि जिले की टीम द्वारा बनाई गई रणनीति तथा उसके क्रियान्वन ने बोर्ड की रिर्जल्ट को सुधारने में अहम रोल अदा किया। उन्होंने इस उपलब्धि के लिए शिक्षा विभाग के अधिकारियों, अध्यापकों तथा विद्यार्थियों को बधाई दी। उन्होंने बताया कि जिला के 10 टोपर्स में से 4 विद्यार्थी सरकारी विद्यालयों से हैं और हम इस धारणा को बदलने में कामयाब हुए हैं कि सरकारी विद्यालय नीजि विद्यालयों की तुलना में इतने अच्छे नहीं है। अब सरकारी विद्यालय भी नीजि विद्यालयों के साथ गुणवत्ता और प्रदर्शन दोनों में बराबर टक्कर दे रहे हैं। उन्होंने बताया कि वर्ष 2017 व 2018 में जिला यमुनानगर 20वें स्थान पर था तथा 2019 में 21वें स्थान पर था, परन्तु इस वर्ष जिला ने एक लम्बी छलांग लगाई है और यह तीसरे स्थान पर पहुंच गया है तथा आगे भी इसको सुधारने का प्रयास जारी रहेगा।
जिला शिक्षा अधिकारी नमिता कौशिक ने बताया कि उपायुक्त मुकुल कुमार के कुशल दिशा-निर्देशन में शिक्षा विभाग के अधिकारी व अध्यापक निरंतर शिक्षा में सुधार की ओर अग्रसर है। उन्होंने कहा कि 12वीं कक्षा का इस वर्ष का परीक्षा परिणाम इसी बात का परिचायक है। उन्होंने कहा कि उपायुक्त महोदय व प्रशासन के अन्य अधिकारियों के मार्गदर्शन में सभी विद्यार्थियों को सक्षम बनाने के लिए निरंतर प्रयासरत है। उप जिला शिक्षा अधिकारी शिव कुमार धीमान ने बताया कि मास मार्च 2020 में सम्पन्न हुई 12वीं की परीक्षा में यमुनानगर जिला के 8209 नियमित विद्यार्थी बैठे थे, जिनमें से 7053 विद्यार्थी पास हुए। उन्होंने बताया कि इस वर्ष जिले का परीक्षा परिणाम 85.92 प्रतिशत रहा है और हम बहुत थोडे से मार्जन (0.63) से दूसरे स्थान से पीछे रह गए। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि आगे भी जिला के परीक्षा परिणाम बेहतर आएंगे और इसके लिए शिक्षा विभाग को ओर कड़ी मेहनत करनी होगी।

About Post Author

Leave a Comment

और पढ़ें